Monday, May 27, 2024
Latest:
उत्तराखंड

पहाड़ पुत्र डॉ एसडी जोशी का चलो गाँव की ओर अभियान जारी, उत्तरकाशी देवीधार गांव में लगाया फ्री मेडिकल हैल्थ कैम्प स्वास्थ्य जांच को दूर-दूर से पहुँचे लोग, मुफ़्त बंटी 6 लाख से अधिक की दवाइयां

उत्तरकाशी – पहाड़ पुत्र डॉ एसडी जोशी का चलो गाँव की ओर अभियान जारी है। उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों में हर जरूरतमंद व्यक्ति को समय पर इलाज मिल सके। इसलिए डॉ जोशी अपनी पूरी टीम के साथ तन मन धन से गांव-गांव जाकर फ्री मेडिकल हेल्थ कैंप लगा रहे हैं। डॉ एसडी जोशी की इस मुहिम में विचार एक नई सोच संस्था के साथ ही तमाम अन्य संस्थाएं भी जुड़ने लगे हैं।

उत्तरकाशी जनपद के डुंडा ब्लॉक के देवीधार गांव में निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। उत्तराखंड के जाने माने फिजिशियन औऱ कार्डियोलॉजिस्ट डॉ एसडी जोशी औऱ देहरादून कोरोनेशन अस्पताल के वरिष्ठ नाक-कान-गला रोग विशेषज्ञ डॉक्टर पीयूष त्रिपाठी ने मरीजों के स्वास्थ्य की जांच की।

प्राप्त जानकारी के अनुसार आज डुंडा ब्लॉक के देवीधार गाँव में गणपति कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा एक भव्य निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। स्वास्थ्य शिविर का उद्घाटन उत्तरकाशी के सीएमओ डॉ डीपी जोशी द्वारा किया गया। देवीधार गाँव पहुँचे डॉ एसडी जोशी और डॉ पीयूष त्रिपाठी औऱ समाजसेवी राकेश बिजल्वाण का स्थानीय लोगों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। स्वास्थ शिविर में गणपति कंस्ट्रक्शन कंपनी के ठाकुर महेंद्र पाल सिंह परमार, ठाकुर धर्मवीर सिंह परमार, ठाकुर अनिरुद्ध सिंह परमार, ठाकुर यजुवेंद्र सिंह परमार ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

फ्री मेडिकल हैल्थ कैम्प में 380 से अधिक लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई। हृदय रोग से संबधित मरीजों का मौके पर फ्री इसीजी व शुगर के रोगियों की फ्री शुगर जांच की गई। सभी जांचे पूरे एतिहात के साथ डॉ जोशी की टीम के महत्वपूर्ण सदस्य कपिल थापा ने अहम योगदान दिया। कपिल थापा द्वारा हृदय रोगियों के 90 ईसीजी और 250 मरीजों का निशुल्क शुगर परीक्षण किया गया। गणपति कंस्ट्रक्शन कंपनी के द्वारा जरूरतमंद मरीजों को करीब 6 लाख से अधिक की दवाइयां मुफ्त में बांटी गई। इस मौके पर विचार एक नई सोच सामाजिक संगठन के संचालक राकेश बिजल्वाण के साथ ही दीपक जुगराण, सुशील कुमार, मेहर चंद सहित अन्य वालिंटियर शामिल रहे।


*CMO डॉ डीपी जोशी बोले डॉ SD जोशी और डॉ पीयूष त्रिपाठी जैसी हो हर डॉक्टर की सोच*

उत्तरकाशी के सीएमओ डॉक्टर डीपी जोशी ने डॉक्टर एसडी जोशी के पहाड़ों में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए चलो गांव की ओर अभियान की तारीफ की। उन्होंने कहा यह एक बहुत ही अच्छी पहल है। पर्वतीय इलाकों में न सिर्फ लोगों को घर बैठे इलाज मिल पा रहा है साथ ही दवाइयों के साथ जांचें भी मुक्त हो रही हैं। इस तरह के कैंप पहाड़ों में स्वास्थ सेवाओं के लिए संजीवनी का काम कर रहे हैं। उन्होंने गणपति कंट्रक्शन कंपनी और विचार एक नई सोच सामाजिक संगठन की भी तारीफ की।

*नाक-कान-गले से जुड़ी बीमारियों को लेकर डॉ पीयूष त्रिपाठी ने लोगों को किया जागरूक*

कोरोनेशन अस्पताल के वरिष्ठ ईएनटी विशेषज्ञ डॉ पीयूष त्रिपाठी द्वारा नाक, काॅन, गले से संबधित लोगों की बिभिन्न जांच की गई। डॉक्टर पीयूष त्रिपाठी द्वारा लोगों को नाक कान गले से जुड़ी विभिन्न बीमारियों के बारे में विस्तार से बताया गया और इनमें किसी भी प्रकार की समस्या आने पर लापरवाही ना करने की सलाह दी गई। डॉक्टर त्रिपाठी ने कहा नाक कान गला हमारे शरीर का महत्वपूर्ण अंग है । इन से जुड़ी किसी भी समस्या को हल्के में नहीं लेना चाहिए। डॉ. पीयूष त्रिपाठी ने कहा कि लोगों की सुविधा के लिए लगाये जाने वाले स्वास्थ्य शिविरों से जनता को राहत मिलती है। उन्होंने कहा दोनों ही संस्थाओं की पहल काबिले तारीफ है। इस मौके पर 10 कान के मरीज़ों को निशुल्क सुनने की मशीन वितरित की गई।

*गणपति कंस्ट्रक्शन कंपनी व विचार एक नई सोच संस्था की सराहनीय पहल*

कैम्प के सफल आयोजन के पश्चात डॉ एसडी जोशी और डाॅ पीयूष त्रिपाठी ने
गणपति कंस्ट्रक्शन कंपनी व विचार एक नई सोच संस्था के प्रयास की सराहना की। उन्होंने कहा कि पहाड़ की बेहतरी में ये दोनों संस्थाए खामोशी से अपना योगदान दे रही हैं। बहुत कम लोग ऐसे होते हैं जो निस्वार्थ भाव से समाजसेवा में लगे रहते हैं। उन्होंने कहा कि वह लोग जो महंगी दवाईयां नहीं खरीद सकते, जांचें नहीं करा सकते, उन्हें ऐसे शिविरों से लाभ मिलता है। डाॅ एसडी जोशी ने कहा कि वह समय-समय पर पहाड़ों में जनता के लिये निशुल्क सेवाएं देते रहेंगे। निशुल्क दवाईयों के साथ ही कोरोना जागरूकता को लेकर मास्क, सेनेटाइजर वितरण की संस्था की पहल काबिले तारीफ है।

*गणपति कंस्ट्रक्शन कंपनी के ठाकुर महेंद्र पाल सिंह परमार बोले जारी रहेगी मुहिम*

गणपति कंस्ट्रक्शन कंपनी के ठाकुर महेंद्र पाल सिंह परमार ने कहा कि उत्तराखंड में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति किसी से छिपी नहीं है । ऐसे में डॉ जोशी की मुहिम काबिले तारीफ है। हम सब लोग डॉ जोशी की मुहिम में उनके साथ हैं आज हमारी संस्था ने करीब 6 लाख से अधिक की दवाइयां जरूरतमंद मरीजों को मुफ्त बांटी हैं। आगे भी हमारा फ्री मेडिकल कैंप का अभियान जारी रहेगा । हमारा प्रयास रहेगा कि पर्वतीय इलाकों के दुर्गम गांव में यह कैंप आयोजित हो और लोगों को घर बैठे मुफ्त इलाज मिल सके।

*समाजसेवी राकेश बिजल्वाण ने बांटे मास्क, सेनेटाइजर*

फ्री मेडिकल हैल्थ कैम्प में विचार एक नई सोच संस्था के संस्थापक राकेश बिजल्वाण ने स्वास्थ्य जांच को आये सभी लोगों को फ्री मास्क व सेनेटाइजर के साथ मरीजों को निशुल्क दवाईयां भी वितरित की। राकेश बिजल्वाण ने स्वास्थ्य जांच को आये सभी लोगों को मास्क की अहमियत बताते हुए घर से बाहर बिना मास्क के न निकले को कहा। उन्होंने लोगों से मास्क पहनने के साथ सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने को भी कहा। लोगों ने विचार एक नई सोच संस्था की सराहना करते हुए कोरोना जागरूकता को लेकर प्रयास की सराहना की। इस मौके पर संस्था के दीपक जुगराण, सुशील कुमार, मेहर चंद सहित अन्य वालिंटियर शामिल रहे।

*डॉ जोशी ने कोरोना संक्रमण को लेकर किया गया जागरूक*

डाॅ जोशी ने मेडिकल हैल्थ कैंप में स्वास्थ्य जांच को आये सभी मरीजों को कोराना महामारी को लेकर जागरूक किया। उन्हें कोरोना के लक्षण व बचाव के तरीकों के बारे में बिस्तार से बताया। साथ ही वायरल संक्रमण व कोरोना संक्रमण के अंतर को भी मरीजों के समझाया। डाॅ जोशी ने स्वास्थ्य जांच को आये लोगों से कहा कि बीमारियों को छिपायें नहीं डाॅक्टर को बतायें। बिना डाॅक्टरी के सलाह के कोई भी दवा न खायें।


*चलो गांव की ओर मुहिम के जरिए मिल रहा लोगों को फ्री ईलाज*

डाॅक्टर जोशी ने कहा कि पहाड़ों में स्वास्थ्य सेवाओं के सुधार के लिये सरकार के साथ-साथ हम सभी डाॅक्टरों को अपने स्तर से प्रयास करने होंगे। इसकी शुरूआत मैने स्यंम से की है। मेरा गांव चमोली जनपद के अंतर्गत आता है। जहां स्वास्थ्य सेवाओं की हालत किसी से छिपी नहीं है। इसलिये मैं प्रत्येक 2 माह में एक स्वास्थ्य कैंप अपने गांव में लगाता हूं। जिससे मेरे गांव के साथ ही आस पास के गांव के लोगों को स्वास्थ्य संबधी जागरूकता के साथ ही तमाम बीमारियों का ईलाज हो सके। इसके साथ ही इस कैंप में सभी दवाईयां निशुल्क दी जाती हैं। चमोली, पौड़ी और उत्तरकाशी जिले के अधिकांश गांवों में विचार एक नई सोच संस्था के साथ मिलकर फ्री कैंप आयोजित किये जा रहे हैं। मेरी कोशिश है प्रत्येक जनपद में दुर्गम गांवों में और जहां जरूरत हो वहां निशुल्क हैल्थ कैंप लगाता रहूं।

गौरतलब है कि, पहाड़ के दूरस्थ इलाकों में रह रहे लोग जहाँ अभी तक स्वास्थ्य सेवाएं नहीं पहुँच पाई है, उन लोगों तक चलो गांव की ओर मुहिम के जरिए निःशुल्क स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही है। डाॅक्टर जोशी ने कहना है कि, पहाड़ों में स्वास्थ्य सेवाओं को बहाल किये जाने को लेकर सरकार के साथ-साथ हम सभी डाॅक्टरों को अपने स्तर से योगदान देना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *