उत्तराखंड

Cyber ठगों के हौंसले हुए बुलंद, DGP उत्तराखंड की फ़र्ज़ी फ़ेसबुक आईडी बनाकर माँगे पैसे, पुलिस की छः टीमें करेंगी मामले की जाँच

साइबर ठगों के हौंसले कितने बुलंद है इसका अंदाज़ा उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार की फेक फेसबुक आईडी देखकर आसानी से लगाया जा सकता है। आम लोगों को निशाना बनाने वाले ठग अब उत्तराखंड पुलिस के मुखिया की फ़र्ज़ी आईडी बनाकर लोगों से ठगी करने की कोशिश में है। लेकिन पुलिस ने पूरे मामले में तेज़ी दिखाते हुए मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। कोतवाली पुलिस के अनुसार, तनुज ओबरॉय पुत्र सुभाष ओबरॉय जोकि मोती बाजार निवासी है ने साइबर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज करवाया है। तहरीर में कहा गया है कि सोमवार रात एक फेसबुक आईडी से मैसेज आया और दस हजार रुपये की मांग की गई। फेसबुक आईडी चेक करने पर प्रोफाइल में डीजीपी उत्तराखंड की फोटो नज़र आइ। ओबरॉय ने जब परिजनों को यह बात बताई तो उन्हें शक हुआ। इसके बाद उन्होंने पुलिस से संपर्क साधा और पुलिस को पीड़ित ने एक नंबर भी उपलब्ध कराया। पुलिस के अनुसार, किसी साइबर ठग ने डीजीपी के नाम से फेक आईडी बनाकर ऐसी हरकत की है। इसकी जांच साइबर थाने की पुलिस भी कर रही है। वहीं पुलिस मुख्यालय की मीडिया सेल के संज्ञान में भी पूरा मामला है। उनके मुताबिक़ 14 जून को डीजीपी की फेक आईडी बनी थी। शुरुआती जांच में यह काम किसी प्रोफेशनल साइबर अपराधी का लग रहा है, जिसका कनेक्शन बिहार, झारखंड और राजस्थान से हो सकता है। DGP से जुड़ा मामला होने के चलते वी. मुरुगेशन-आईजी-अपराध एवं कानून व्यवस्था के नेतृत्व में छह टीमें बनाई गई हैं, जो इसकी जांच करेंगी। इन राज्यों के वरिष्ठ अफसरों से भी वार्ता की गई है और जल्द ही इस प्रकरण का खुलासा किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *