Thursday, May 23, 2024
Latest:
उत्तराखंड

उत्तराखण्ड ऊर्जा कामगार संगठन ने प्रबंधन को सौंपा ज्ञापन, राजस्व वसूली में लगे कर्मचारियों को दी जाए पूरी सुरक्षा, सुरक्षा ना मिलने की दशा में आंदोलन का अल्टिमेटम

उत्तराखण्ड ऊर्जा कामगार संगठन के प्रान्तीय अध्यक्ष राकेश शर्मा के नेतृत्व में संगठन द्वारा एक ज्ञापन जोकि प्रबन्ध निदेशक, उपाकालि को सम्बोधित है निदेशक (मा0सं0), उपाकालि एंव निदेशक (परिचालन), उपाकालि को सौपा गया। जिसमें अवगत कराया गया कि राजस्व वसूली के कार्य में कार्यरत कार्मिको से उपभोक्ताओं द्वारा अभद्रता एंव मारपीट की घटनायें हो रही है। जिससे राजस्व वसूली के कार्य में कार्यरत कार्मिकों में असुरक्षा की भावना व्याप्त हाने से उनके मानसिक स्तर पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है एंव उनका सामाजिक जीवन भी प्रभावित हो रहा है। जहाॅ एक ओर प्रबन्धन द्वारा राजस्व वसूली के लक्ष्य पूर्ण न होने की स्थित में उसी अनुपात में वेतन आहरण करने के आदेश निर्गत है वहीं दूसरी और इस कार्य में संलिप्त कार्मिकों की सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था न होने से उपभोक्ताओं द्वारा लगातार कार्मिाके ंसे अभद्रता एंव मारपीट की घटनायें घटित हो रही है।

हाल ही की घटनाओं में गदरपुर, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़, रूड़की आदि जगह पर कार्यरत अवर अभियंताओं एंव कर्मचारियों से मारपीट के फलस्वरूप दोनो पक्षों द्वारा एक दूसरे की विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। एक ओर जहाॅ कुछ उपभोक्ताओं द्वारा विघुत चोरी की जा रही है वही पकड़े जाने पर उनके द्वारा कार्मिकों के विरूद्ध असत्य आरोपों के आधार पर केस दर्ज कराये जा रहे है। संगठन यह मांग करता है कि राजस्व वसूली के कार्य में लगे हुये कार्मिकों की पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की जाये ताकि कारपोरेशन राजस्व की वसूली में लगे कार्मिकों द्वारा निर्भीक होकर कार्य सम्पादित किया जा सकें अन्यथा की स्थिति में संगठन को बाध्य होकर आन्दोलन प्रारम्भ करना पडेगा जिससे उत्पन्न होने वाली औघोगिक अशान्ति के लिये प्रबन्धन उत्तरदायी होगा। संगठन की और से राकेश शर्मा, दीपक बेनीवाल, सुशील शर्मा, बलवंत सिंह, एच0सी0 शर्मा, विजय बिष्ट, सोहन शर्मा, अशोक जोशी, राजेश सैनी, आशीष सती, विजय गुसाई, विरेन्द्र लाल, शशी राणा, रमन पटेल, मनोज नेगी, राजीव राघव, अवतार सिंह बिष्ट, नीलम बिन्जौला आदि कई लोग शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *