Wednesday, December 6, 2023
Home उत्तराखंड शिक्षा विभाग में प्रतिनियुक्ति का मामला फिर गर्माया, उत्तराखंड से उत्तरप्रदेश गए...

शिक्षा विभाग में प्रतिनियुक्ति का मामला फिर गर्माया, उत्तराखंड से उत्तरप्रदेश गए शिक्षक वापस लौटने को नहीं तैयार

चार साल पहले प्रतिनियुक्ति की मंजूरी लेकर उत्तर प्रदेश गए उत्तराखंड के 11 शिक्षक वहीं रम गए। उनकी प्रतिनियुक्ति का वक्त तीन साल पहले खत्म हो चुका है और इसके बाद उन्होंने अब तक अपनी मूल तैनाती पर ज्वाइन नहीं किया।  उत्तराखंड ने उत्तर प्रदेश के महानिदेशक-शिक्षा से इन शिक्षकों की शिकायत करते हुए तत्काल कार्यमुक्त करने की गुजारिश की है। प्रतिनियुक्ति-अटैचमेंट पर रोक के तमाम सरकारी दावों को मुंह चिढ़ाते ये मामले शिक्षा विभाग में काफी चर्चा में हैं।

अपर माध्यमिक शिक्षा निदेशक रामकृष्ण उनियाल के अनुसार कार्मिक विभाग के नियम के अनुसार कोई भी कर्मी प्रतिनियुक्ति की तय अवधि तक दूसरे विभाग में रह सकता है। यदि वह ज्यादा समय तक रुकता तो उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का प्रावधान है। सूत्रों के अनुसार, इन शिक्षकों में ज्यादातर शिक्षकों को प्रतिनियुक्ति दिसंबर 2017 में मिली है। जबकि एक शिक्षक वर्ष 2011 से उत्तर प्रदेश में टिके हुए हैं। नियमानुसार प्रतिनियुक्ति केवल तीन साल के लिए मान्य होती है। इसे अधिकतम पांच साल किया जा सकता है।

पेंशन में नहीं मिलेगा लाभ

प्रतिनियुक्ति से ज्यादा समय तक तक दूसरे विभाग में रहने वाले कर्मचारियों को रिटायरमेंट के बाद आर्थिक नुकसान भी हो सकता है। शिक्षा विभाग का कहना है कि जितना अतिरिक्त समय ये शिक्षक दूसरे विभाग में रहेंगे, उतना समय उनकी पेंशन अवधि से काट लिया जाएगा।

विभाग को पता नहीं कितने शिक्षक हैं बाहर:

यूपी के शिक्षा महानिदेशक को भेजे पत्र में शिक्षा विभाग ने कहा है कि पत्र में उल्लेखित शिक्षकों को तत्काल रिलीव कर दिया है। यदि इन शिक्षकों के अलावा भी कोई शिक्षक हो तो उसे भी उत्तराखंड के लिए कार्यमुक्त कर दिया जाए।

कौन-कहां कब से
जीआईसी कौसानी के डॉ.हरीश चंद्र 12 दिसंबर 2017 से यूपीके संत कबीरनगर में एसएसए में, जीआईसी सिप्टी चंपावत के विनेाद कुमार 13 दिसंबर 2017 से यूपी के गोंडा में एसएसए में, जीआईसी बिनवाल गांव चंपावत के अनिल कुमार तिवारी 13 दिसंबर 2017 से रायबरेली, जीआईसी बांडा डांडा पौड़ी के डॉ. विनोद कुमार मिश्र नौ दिसंबर 2017 से इलाहाबाद में, जीआईसी चौरीखाल पौड़ी के शंकर सुवन नौ दिसंबर 2017 से प्रतापगढ़, जीआईसी बज्यूला बागेश्वर के सत्येंद्र मिश्र 10 अक्टूबर 2016 से सीतापुर, जीआईसी कल्जीखाल पौडी के पंकज वशिष्ठ 26 अप्रैल 2017 से मुजफ्फरनगर, जीआईसी साकिनखेत पौड़ी के शरद सिंह प्रतापगढ़, जीआईसी फाटा रुद्रप्रयाग के संतोष कुमार सिंह चंदौली, जीआईसी जाखणीधार टिहरी के सत्यनारायण कटियार 31 मई 2011 से कानपुर देहात, जीआईसी कलोगी उत्तरकाशी के सुनील कुमार श्रीवास्तव अयोध्या में तैनात हैं।

RELATED ARTICLES

देहरादून शहर को मिली केंद्र से एक और बाईपास की सौगात, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने किया केंद्र का आभार व्यक्त

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश की बहुप्रतीक्षित झाझरा-आशारोड़ी लिंक रोड (लंबाई 12.17 किमी) के विकास के लिए ₹715.97 करोड़ धनराशि...

देवभूमि को बनाना है खेल भूमि,सरकार है प्रतिबद्ध- रेखा आर्या, खेल मंत्री रेखा आर्या ने देहरादून में IOA के ध्वज को मुख्यमंत्री धामी को...

*गोवा में आयोजित 37 वे राष्ट्रीय खेल में उत्तराखण्ड राज्य के पदक विजेता खिलाडियों का किया गया सम्मान समारोह आयोजित,मुख्यमंत्री व खेल मंत्रीने किया...

डेस्टिनेशन उत्तराखण्ड एनर्जी कॉन्क्लेव में मुख्यमंत्री की उपस्थिति में हुए 40 हजार करोड़ से अधिक के एमओयू, आंकड़ा पहुंच गया तय लक्ष्य के पास

डेस्टिनेशन उत्तराखण्ड ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के तहत सचिवालय में आयोजित उत्तराखण्ड एनर्जी कॉन्क्लेव में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की उपस्थित में 40 हजार 4सौ...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

देहरादून शहर को मिली केंद्र से एक और बाईपास की सौगात, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने किया केंद्र का आभार व्यक्त

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश की बहुप्रतीक्षित झाझरा-आशारोड़ी लिंक रोड (लंबाई 12.17 किमी) के विकास के लिए ₹715.97 करोड़ धनराशि...

देवभूमि को बनाना है खेल भूमि,सरकार है प्रतिबद्ध- रेखा आर्या, खेल मंत्री रेखा आर्या ने देहरादून में IOA के ध्वज को मुख्यमंत्री धामी को...

*गोवा में आयोजित 37 वे राष्ट्रीय खेल में उत्तराखण्ड राज्य के पदक विजेता खिलाडियों का किया गया सम्मान समारोह आयोजित,मुख्यमंत्री व खेल मंत्रीने किया...

डेस्टिनेशन उत्तराखण्ड एनर्जी कॉन्क्लेव में मुख्यमंत्री की उपस्थिति में हुए 40 हजार करोड़ से अधिक के एमओयू, आंकड़ा पहुंच गया तय लक्ष्य के पास

डेस्टिनेशन उत्तराखण्ड ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के तहत सचिवालय में आयोजित उत्तराखण्ड एनर्जी कॉन्क्लेव में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की उपस्थित में 40 हजार 4सौ...

मुख्यमंत्री धामी ने मुख्यसेवक सदन में 18 जीआई प्रमाण पत्रों का किया वितरण, एक दिन में सर्वाधिक 18 जीआई प्रमाण पत्र प्राप्त करने वाला...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्य सेवक सदन में जीआई प्रमाण पत्रों का वितरण किया। उत्तराखण्ड देश का पहला राज्य है,...

निर्माणाधीन सैन्यधाम का सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने किया निरीक्षण, निर्माण की सुस्त रफ्तार से नाराज हुए मंत्री गणेश जोशी

देहरादून, सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने गुनियाल गांव में निर्माणाधीन सैन्यधाम का निरीक्षण किया। सैनिक कल्याण मंत्री ने अधिकारियों को फरवरी 2024 की...

MD UJVNL संदीप सिंघल को मिली PhD की उपाधि, राज्यपाल ने दीक्षांत समारोह में किया सम्मानित

युनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज द्वारा यूजेवीएन लिमिटेड के प्रबंध निदेशक संदीप सिंघल को उनके द्वारा *उत्तराखंड में जलविद्युत विकास को गति प्रदान...

PM मोदी से नई दिल्ली में CM धामी ने की मुलाकात, मिशन सिलक्यारा की दी जानकारी, Global Investors Summit 2023 के लिए PM को...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात कर उन्हें देहरादून में 08 व 09 दिसम्बर, 2023 को आयोजित...

बड़ी खबर: जोशीमठ के लिए 1658.17 करोड़ की योजना मंजूर, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री मोदी एवं गृहमंत्री अमित शाह का जताया आभार

देहरादून। केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय समिति ने आपदाग्रस्त जोशीमठ के लिए ₹1658.17 करोड़ की रिकवरी एवं...

मातृ शक्ति के सहयोग से होगा राष्ट्र का संपूर्ण विकास, प्रदेश के विकास के लिए हर क्षेत्र में महिलाओं का योगदान जरूरी- सीएम धामी,...

*आर्मी गेट से एमबीइंटर कॉलेज चौराहे तक सांस्कृतिक कार्यक्रमों और छोलिया दल रहा मुख्य आकर्षण का केंद्र* *महिला, पुरुषों के साथ ही भावी पीढ़ी को...

मुख्यमंत्री आवास में हर्ष पर्व के रूप में हर्षोल्लास से मनाई गयी इगास, मुख्यमंत्री ने सिल्क्यारा सुरंग में फसे श्रमिकों के परिजनों को मुख्यमंत्री...

*मजदूरों के परिजनों ने मुख्यमंत्री का जताया आभार* *सांस्कृतिक कार्यक्रम में राज्य की लोक संस्कृति से रूबरू हुये श्रमिकों के परिजन* *सांस्कृतिक नृत्य में परिजनों ने...