उत्तराखंड

मौजूदा सरकार का अंतिम बजट सत्र ग्रीष्मकालीन राजधानी ग़ैरसैण में कल से होगा आयोजित, चुनावी साल होने के चलते बजट में हो सकती है लोकलुभावनी घोषणाएँ, ग़ैरसैण को लेकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत कर सकते है एक बार फिर से कोई बड़ी घोषणा

उत्तराखंड राज्य के चमोली जनपद में प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में एक मार्च से उत्तराखंड विधानसभा का बजट सत्र शुरू होने जा रहा है। बजट सत्र की तैयारियों को सरकार और विधानसभा प्रशासन ने अंतिम रूप दे दिया है। कई विभागों के अफसर और कर्मचारी गैरसैंण पहुँचकर व्यवस्था को संभाल रहे है। वहीं यह सत्र मौजूदा सरकार का अंतिम बजट सत्र होगा। माना जा रहा है कि, चुनावी साल होने की वजह से सरकार बजट में लोकलुभावन घोषणाएं कर सकती है। मौजूदा बजट सत्र पर पूरे उत्तराखंड की नजरें टिकी हुई हैं। राज्य में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। इस लिहाज से मौजूदा सरकार का यह आखिरी बजट होगा।

महंगाई और बेरोजगारी के साथ ही आपदा से जूझ रही जनता को उत्तराखंड के सीमित संसाधनों के बीच राहत दिलाना सरकार के लिए चुनौती होगी। सूत्रों के अनुसार, इस साल त्रिवेंद्र रावत सरकार 56 हजार 900 करोड़ रुपये के लगभग का बजट सदन में प्रस्तुत करने जा रही है। यह बीते साल के मुकाबले करीब चार हजार करोड़ रुपय अधिक होगा। पिछले साल यह बजट 53 हजार करोड़ रुपये था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *