Monday, July 15, 2024
Latest:
उत्तराखंड

उत्तराखंड सचिवालय संघ ने सरकार से दोबारा की लॉकडाउन की माँग, कहा- कोरोना संक्रमण के आँकड़े लगातार हो रहे है भयावह, सरकार लगाए 15 दिन का लॉकडाउन

राज्य में कोरोना का प्रकोप निरंतर बढ़ने और राज्य सरकार के स्तर से हर संभव प्रयास एवं निर्देश जारी होने के उपरांत भी कोरोना पीड़ितों की संख्या का आंकडा 10000 के नजदीक पहुँचने की भयावह स्थिति को देखते हुये सचिवालय संघ द्वारा राज्य के जनहित मे अपनी पुरानी मांग को दोहराते हुए राज्य सरकार से 15 दिन के संपूर्ण लॉकडाउन की पुनः मांग की गयी है। संघ के अध्यक्ष दीपक जोशी द्वारा बताया गया है कि प्रदेश का कार्मिक वर्ग हो अथवा आम जनमानस हर घर में कोई ना कोई कोरोना से पीड़ित होता जा रहा है तथा तेजी से बढते आंकड़े प्रत्यक्ष प्रमाण हैं कि कोरोना से संक्रमित एवं मृतकों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। यद्यपि सरकार के स्तर से इस दिशा मे हरसंभव प्रयास करने के उपरांत भी कोरोना संक्रमण में कोई कमी नहीं आ पाई है, इसके लिये सिस्टम को दिशाहीन करने वाले तथा सरकार को वास्तविक स्थिति से अवगत न कराने वाले अधिकारी जिम्मेदार हैं, स्वास्थ्य विभाग मे अधिकारियों की लम्बी चौडी फौज होने के बाद भी प्रदेश में कोरोना महामारी का बेकाबू होना, बहुत से सवाल खड़े कर रहा है और सरकार की छवि को भी धूमिल कर रहा है। जनपद देहरादून में कोरोना की वर्तमान स्थिति तथा जीवन रक्षक उपकरणों व दवाओं की कमी को देखकर यह प्रतीत हो रहा है कि सरकार को फेल करने की सुनियोजित साजिश की जा रही है, अस्पतालों की हालत बद से बदतर की जा रही है, जहाँ न बैड की समय पर उपलब्धता हो पा रही है, न दवा, न इंजेक्शन, न आक्सीजन ही सुलभ हो पा रहा है। ऐसा लग रहा है जैसे अस्पतालों मे इन सब जीवन रक्षक आवश्यकताओं की कालाबाजारी की जा रही हो, रोगी व्यक्ति मर नही रहे हैं, बल्कि सही उपचार एवं आवश्यक दवाओं/उपकरणों की पहुँच व उपलब्धता के अभाव मे मारे जा रहे हैं। सरकार से इन सब अव्यवस्थाओं पर ध्यानाकर्षण करने का विशेष अनुरोध संघ द्वारा किया गया है।

सरकार से पुनः कहा गया है कि वर्तमान परिस्थितियों में प्रदेश में कोरोना पीड़ितो की संख्या निरंतर बढ़ने से सरकार के लिए यह समय यद्यपि चुनौतियों से भरा है तथापि सरकार को प्रदेश के सभी नागरिकों, कार्मिकों एवं उनके परिवार आदि की गहरी चिंता है, उसी चिंता को कम करने तथा प्रदेश में कोरोना संक्रमण के प्रकोप को रोकने के लिए कार्मिक सेवा संघ के प्रतिनिधि होने के नाते तथा उससे भी पहले प्रदेश के आम नागरिक होने के नाते इस विषम परिस्थिति में सभी कार्मिको व उनके परिवार के सदस्यों एवं प्रदेश के आम जनमानस के जीवन की रक्षा हेतु कोरोना महामारी के प्रकोप को कारगर रूप से नियंत्रित किए जाने तथा इस महामारी की चेन को तोड़ने के लिए प्रदेश में 15 दिन के संपूर्ण लॉकडाउन किए जाने का पुनः अनुरोध माननीय मुख्यमंत्री जी से किया गया है, ताकि आम जनमानस के साथ साथ प्रदेश के सभी अधिकारियो, कार्मिकों, शिक्षको और उनके आश्रित सदस्यो के स्वास्थ्य एवं जीवन की रक्षा किया जाना सम्भव हो सके।
इस मध्य राज्य के अपने बीच के कई लोगो की कोरोना से अकाल मृत्यु पर दुख और संवेदना व्यक्त करते हुए आज पत्रकारिता जगत से श्री राजेन्द्र जोशी जी के असामयिक निधन पर शोक व्यक्त किया गया तथा संघ की ओर से अपनी संवेदनाऐ प्रकट की गयी। साथ ही आज मा0 विधायक धारचूला की पुत्री के असामयिक निधन पर भी गहरा दुख और संवेदनाऐ व्यक्त की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *