Sunday, March 3, 2024
Latest:
उत्तराखंड

मैक्स अस्पताल देहरादून का एक और कारनामा आया सामने, बिना टीका लगाए व्यक्ति का वैक्सिनेशन सर्टिफ़िकेट किया जारी

देहरादून। राजधानी देहरादून के मैक्स हॉस्पिटल में पेड वैक्सीनेशन में फ़र्ज़ीवाड़े का बड़ा मामला सामने आया हैं। मैक्स हॉस्पिटल द्वारा वैक्सीनेशन किये बिना ही वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट जारी कर दिया गया। देहरादून निवासी रजनीश कुमार ने 4 जून को मैक्स हॉस्पिटल द्वारा लगाए गए पेड वैक्सीनेशन कैंप में स्लॉट बुक कराया था। लेकिन किसी कारणवश रजनीश कुमार वैक्सीन लगाने नहीं जा पाए। जब उन्होंने बुक किए गए स्लॉट को रीशेड्यूल करना चाहा तो उन्हें पता चला कि उनके नाम पर किसी और को वैक्सीन लगाकर उसका सर्टिफिकेट भी जारी कर दिया गया है। अब रजनीश कुमार दोबारा वैक्सीन की पहली डोज नहीं लगा सकते हैं। क्योंकि रिकॉर्ड के अनुसार उन्हें वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी हैं। रजनीश कुमार ने बातचीत में बताया कि मैक्स हॉस्पिटल द्वारा देहरादून के दून क्लब में लगाए गए वैक्सीनेशन कैंप में स्लॉट बुक कराया था। मगर उनकी जगह किसी और को वैक्सीन लगा दी गई।जब रजनीश ने मैक्स हॉस्पिटल के अधिकारियों से बातचीत की तो उन्होंने इसके लिए रजनीश को अस्पताल बुलाया। जिस पर रजनीश ने मैक्स अस्पताल जाने से मना कर दिया।
उन्होंने अपनी समस्या के समाधान के लिए कोविड कंट्रोल रूम डीएम ऑफिस। सीएम हेल्पलाइन समेत अन्य संबंधित नंबरों पर फोन भी किया है। मगर उन्हें कहीं से भी कोई खास रिस्पांस नहीं मिला। वहीं मैक्स अस्पताल देहरादून के प्रवक्ता ने कहा कि शासन के दिशा-निर्देशों के तहत ही निर्धारित केंद्र पर निष्पक्ष तरीके से टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। जब एक लाभार्थी कोविड पोर्टल पर पंजीकरण करता है और टीकाकरण के लिए एक नियुक्ति प्राप्त करता है, तो सिस्टम एक ओटीपी उत्पन्न करता है। जिसे टीकाकरण से पहले साझा किया जाता है। हमने साथ में एक मैन्युअल डेटा प्रविष्टि भी बनाए हुए हैं। यह मामला हमारे सामने लाया गया है और हम इसकी जांच कर जल्दी से जल्दी इसका समाधान निकालने का प्रयास कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *