Sunday, July 14, 2024
Latest:
उत्तराखंड

ऊर्जा विभाग में कर्मचारी – अधिकारी परेशान, बिजली चोरी रोकने जाए तो जान का ख़तरा, चोरी रोकने में नाकाम होने पर परिवार के भरण पोषण का ख़तरा

उत्तराखंड पावर जूनियर इंजीनियर एसोसिएशन (यूपीजेईए) ने दिनेशपुर के ग्राम पत्थरकुई में ऊर्जा निगम की टीम पर हुए हमले की कड़ी भर्त्सना की है।

एसोसिएशन के केन्द्रीय महासचिव संदीप शर्मा ने घटना की कड़ी निंदा करते हुए इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने बयान जारी कर बताया कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि अपनी ड्यूटी कर रहे अवर अभियंता एवं लाइनमैन को असामाजिक तत्वों द्वारा बंधक बना लिया गया। एक तरफ यूपीसीएल प्रबन्धन द्वारा क्षेत्रों में अभियन्ताओं के वेतन को राजस्व वसूली एवं एटीसी हानियों से जोड़ने हेतु आदेश निर्गत किये गये हैं वहीं राजस्व वसूली में लगे अवर अभियन्ताओं एवं अन्य कार्मिकों पर क्षेत्रों में लगातार हमले की घटनाएँ बढ़ रही हैं। इससे पूर्व भी हरिद्वार एवं रुड़की में ऐसी घटनाएं हो चुकी हैं। इन घटनाओं से क्षेत्रों में राजस्व वसूली में लगे अवर अभियन्ताओं एवं अन्य कार्मिकों में भय एवं निराशा का माहौल है साथ ही प्रबन्धन द्वारा इन घटनाओं पर दोषियों के विरुद्ध उचित कार्यवाही नहीं किये जाने से भारी रोष भी व्याप्त है। उन्होंने प्रबन्धन से दिनेशपुर की घटना में शामिल समस्त दोषियों को शीघ्र गिरफ्तार करने एवं सख़्त कार्यवाही किये जाने की मांग की है।

केन्द्रीय अध्यक्ष जे सी पंत ने घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि एसोसिएशन दिनेशपुर सहित प्रदेश भर में यूपीसीएल की राजस्व वसूली टीम पर हो रहे हमलों के सम्बंध में माननीय मुख्यमंत्री के समक्ष अपनी बात रखेगी।

प्रान्तीय महासचिव पवन रावत ने कहा कि क्षेत्रों में पहले से ही अवर अभियन्ता एवं अन्य स्टाफ की भारी कमी है उस पर ऐसी घटनाएँ लगातार बढ़ रही हैं जिनसे क्षेत्रों में राजस्व वसूली में तैनात अवर अभियन्ता एवं अन्य कार्मिक असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। जब क्षेत्रों में विजिलेंस की टीम के साथ ही कार्मिकों पर जानलेवा हमला हो रहा है तो फिर क्षेत्रों में विषम परिस्थितियों में कार्य करने वाले कार्मिकों द्वारा अपने दायित्वों का निर्वहन बिना सुरक्षा के किस प्रकार किया जायेगा। उन्होंने प्रबन्धन से राजस्व वसूली में लगे समस्त कार्मिकों को सुरक्षा प्रदान करने एवं इस प्रकार की घटनाओं को रोकने हेतु शीघ्र ही प्रभावी कदम उठाने की माँग की जिससे कि क्षेत्रों में अवर अभियंता सहित समस्त कार्मिकों का मनोबल ऊँचा रहे एवं वे सुरक्षित रहकर अपना कार्य कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *