Tuesday, February 27, 2024
Latest:
उत्तराखंडदेश

quick deployable antenna प्रयोग करने वाला उत्तराखंड बना पहला राज्य, SDRF उत्तराखंड पुलिस करेगी प्रयोग

प्रदेश के सुदूरवर्ती एवमं सीमांत क्षेत्रों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए SDRF सदैव से ही प्रयासरत है, इस कड़ी में पूर्व में राज्य आपदा प्रतिवादन बल द्वारा राज्य के सभी जनपदों में संचार की दृष्टि से कमजोर क्षेत्रों में 248 सेटेलाइट फोन वितरित किये थे, उपरोक्त कार्य को गति और व्यापकता देते हुए नवीनतम टेक्नोलॉजी Q.D.A( quick deployable antenna). SDRF उत्तराखंड पुलिस द्वारा क्रय किया गया गया। उत्तराखंड देश में प्रथम राज्य है जो इस प्रकार की टेक्नोलॉजी का उपयोग कर रहा है वर्तमान में देश में NDRF ओर पैरामिलेट्री फोर्सेस ही Q.D.A का उपयोग कर रहे है।

*क्या होता है Q.D.A.( quick deployable antenna)*
Q.D.A एक प्रकार से नो सिंगल एरिया से संचार स्थापित करने की महत्तम ओर नवीनतम टेक्नोलॉजी है इस प्रणाली में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग और डेटा को भेजने के लिए 1.2mtr QDA (V SAT )एंटीना टर्मिनलों और 1.2mtr स्टेटिक ( V-SAT very small aperture terminal) एंटीना टर्मिनल का उपयोग होता है । यह विभिन्न वीसैट टर्मिनल के साथ उपग्रह आधारित संचार स्थापित करने में मदद करता हैं, वॉयस और वीडियो संचार को दूरस्थ से दूरस्थ वीसैट टर्मिनलों तक संप्रेषित किया जाता है। *1.2 mtr क्यूडीए वीएसएटी एक पोर्टेबल सिस्टम है जो अलग-अलग remote areas में तुरंत स्थापित किया जा सकता है सकता है और किसी भी इलाके में स्थापित हो सकता है।*
साधारण तोर पर हम यह कह सकते है कि यह टेक्नोलॉजी किसी ऐसे क्षेत्र जहां किसी प्रकार का संचार का साधन नही है पर उपयोग करने पर तत्काल सेटेलाइट से सम्पर्क स्थापित कर लाइव ऑडियो ओर वीडियो कॉल की सुविधा देता है


QDA *स्टैटिक ओर मोबाइल* दो प्रकार का होता है प्रदेश की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए किसी भी आपदा के दौरान स्टेटिक Q.D.A को SDRF वाहिनी मुख्यालय जोलीग्रांट, SDMA देहरादून अथवा किसी अन्य उपयुक्त स्थान में स्थापित किया जा सकेगा और मोबाइल Q.D.A को तत्काल हेलीकॉप्टर की सहायता से सम्बंधित क्षेत्रो में भेजकर स्थापित किया जाएगा। जहां से आपदा के दौरान आपदा ग्रस्त क्षेत्र की स्थिति एवं नुकसान की जानकारी तत्काल प्राप्त हो सकेगी साथ ही बचाव हेतु सशक्त योजना के अनेक विकल्प प्राप्त हो सकेंगे। उपरोक्त प्रणाली प्रदेश के लिए किसी भी आपदा के दौरान मानव क्षति न्यूनीकरण की दिशा में एक मजबूत एवमं विश्वस्त साथी का कार्य करेगी।


इससे पूर्व *श्री संजय गुंज्याल महानिरीक्षक SDRF एवमं श्रीमती तृप्ति भट्ट सेनानायक SDRF द्वारा QDA के माध्यम गुंजी (पिथौरागढ़ )त्यूणी ( देहरादून) ओर मलारी ( चमोली)जैसे दूरस्त क्षेत्रों से लाइव वीडियो सम्पर्क स्थापित कर सफल ट्रायल किया* सफल ट्रायल के पश्चात माननीय मुख्यमंत्री महोदय को quick deployable antenna प्रणाली के उत्तराखंड में शुभारंभ हेतु अनुरोध किया गया था *आज समय लगभग1130 बजे माननीय मुख्यमंत्री महोदय द्वारा SDMA देहरादून उत्तराखंड कन्ट्रोल रूम से प्रदेश के मलारी ( चमोली) ,गुंजी (पिथौरागढ़ ) और त्यूणी ( देहरादून) क्षेत्र के प्रधान ओर ग्रामवासियों से QDA से सम्पर्क स्थापित कर प्रणाली का उत्तराखण्ड में शुभारंभ किया , मुख्यमंत्री महोदय द्वारा क्षेत्र की समस्याओं की जानकारी भी प्राप्त की* , जिस क्रम में सभी ग्रामवासियों ने क्षेत्र को डिजिटल प्रणाली से जोड़ने ओर पूर्व में सेटेलाइट फोन वितरण के लिए महोदय का धन्यवाद किया।
QDA से सम्पर्क के दौरान मलारी से श्री मंगल सिंह राणा (प्रधान मलारी), श्री शेर सिंह राणा, बच्चन सिह राणा, गुंजी से कुमारी लक्ष्मी, श्रीमती मानवती देवी, श्री संतोष सिंह ओर त्यूणी से मातवर सिह चौहान, श्री गोविंद शर्मा , श्रीमती अंजली गुसाईं, श्रीमती ममता (आशकार्यकर्ती ) एवमं अन्य ग्रामीण उपस्थित थे
मुख्यमंत्री महोदय ने अपने संबोधन में कहा कि इस प्रकार की प्रणाली उत्तराखंड में किसी भी आपदा रूपी संकट के दौरान संजीवनी स्वरूप है जिसके दूरगामी परिणाम अत्यंत सुखद ओर लाभकारी होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *