Sunday, July 14, 2024
Latest:
उत्तराखंड

महाकुम्भ को लेकर सरकार ने तस्वीर की साफ़, 30 अप्रैल तक विधिवत होगा महाकुम्भ का संचालन

हरिद्वार में आयोजित हो रहे महाकुंभ की सरकारी समय सीमा 30 अप्रैल तक ही रहेगी। बढ़ते कोविड संक्रमण के खतरों को देखते हुए सरकार ने मेला जल्द समाप्त करने की अटकलों को सिरे से खारिज कर दिया है। वहीं दूसरी तरफ भीड़ कम होने के कारण एक-दो दिन में फोर्स की वापसी शुरू हो जाएगी। बुधवार को हरिद्वार कुंभ का सबसे महत्वपूर्ण पड़ाव बैसाखी पर्व संपन्न हो गया है। इसी के साथ social media पर चर्चाएं चल निकली हैं कि सरकार कुंभ मेला समय से पहले समाप्त कर सकती है। हालांकि नोडल विभाग और शहरी विभाग में अभी ऐसी कोई तैयारी नजर नहीं आ रही है। सचिव शहरी विकास शैलेश बगौली ने साफ़ किया है कि फिलहाल मेला अवधि 30 अप्रैल तक ही है। इसे घटाने पर विभाग के स्तर से कोई प्रस्ताव नहीं है। सूत्रों के मुताबिक सरकार आने वाले दिनों में कोविड संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए इस पर अंतिम निर्णय लेगी। वहीं पिछले चार तीन से हरिद्वार में डेरा डाले डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि कुंभ का मुख्य स्नान बुधवार को समाप्त हो गया है। इस कारण फोर्स की वापसी एक दो दिन में शुरू हो जाएगी। उन्होंने बताया कि अब 30 अप्रैल तक केंद्रीय बलों सहित आधा फोर्स ही हरिद्वार में रहेगा, शेष बल अपने अपने पड़ाव पर वापस लौट जाएंगे। साथ ही बुधवार को बीते 12 अप्रैल के स्नान के मुकाबले कम भीड़ रही। इससे आने वाले दिनों में भी भीड़ सामान्य रहने के आसार है। जिसे आसानी से नियंत्रित किया जा सकता है। बता दें कि इससे पहले सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा था कि आज कुंभ मेला खत्म हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *