उत्तराखंड

ज़िला प्रशासन की electric bus के विरोध में उतरे commercial वाहन स्वामी, हज़ारों की संख्या में लोगों को बेरोज़गार करने का लगाया आरोप

कमर्शियल ट्रांसपोर्ट मालिको ने पुराने नई दिल्ली बस स्टैंड गांधी रोड पर एकत्रित होकर जिसमें टैक्सी यूनियन, ऑटो यूनियन, विक्रम यूनियन, और सिटी बस यूनियन के प्रतिनिधियों ने भाग लिया और सभी ने एक मत से देहरादून में चलने वाली इलेक्ट्रॉनिक बस का विरोध किया और सभी को अंदेशा है की इलेक्ट्रॉनिक बस के आ जाने से और इलेक्ट्रॉनिक बस के संचालन से देहरादून कमर्शियल वाहन संचालन से जुड़े हजारों लोगों को रोजगार छीनने का भी डर सता रहा है इसी के सापेक्ष में सभी यूनियनों द्वारा देहरादून कमर्शियल परिवहन संयुक्त संघर्ष समिति का गठन किया गया है इसमें सभी यूनियनों के पदाधिकारी सम्मिलित थे
(1) अध्यक्ष ,विजय वर्धन डंडरियाल, देहरादून महानगर सिटी बस सेवा महासंघ
(2) अध्यक्ष, राजेंद्र कुमार, विक्रम जन कल्याण सेवा समिति देहरादून
(3) अध्यक्ष, महेंद्र प्रसाद ,भारती जौली ग्रांट एयरपोर्ट टैक्सी चालक मालिक समिती
(4) अध्यक्ष, राम सिंह ,दून ऑटो रिक्शा यूनियन
(5) अध्यक्ष, राजेंद्र आनंद ,रेलवे स्टेशन देहरादून टैक्सी यूनियन
(6) प्रवक्ता ,भगवान सिंह पँवार दून ट्रैवल्स यूनियन समिति
(7) अध्यक्ष ,वीरेंद्र दत्त बहुगुणा, देवभूमि टैक्सी मालिक जन सेवा समिति
(a)देहरादून शहर में चलने वाले सिटी बसों की संख्या 260 के आस-पास
(b)देहरादून शहर में चलने वाले टेंपो विक्रम की संख्या 800 के आसपास
(c)जौली ग्रांट एयरपोर्ट से चलने वाली कारों की संख्या 420 के आसपास
(d)देहरादून में चलने वाले ऑटो थ्री व्हीलर की संख्या 2400 के आसपास
(e)रेलवे स्टेशन से चलने वाले टैक्सी की संख्या 200 के आसपास
(f)दून ट्रैवल यूनियन की तरफ से संचालित होने वाली टैक्सी की संख्या 2000 के आसपास
(g)दून टैक्सी यूनियन आईएसबीटी से संचालित होने वाली टैक्सी की संख्या 170 के आसपास
टोटल वाहनों की संख्या 6260 और उससे जुड़े हजारों परिवार
अगली बैठक शीघ्र ही करके उसमें देहरादून कमर्शियल परिवहन संयुक्त संघर्ष समिति के पदाधिकारियों का गठन कर लिया जाएगा उसके पश्चात में आगे आंदोलन की रूपरेखा तय की जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *