Sunday, July 14, 2024
Latest:
उत्तराखंड

देवस्थनाम बोर्ड को लेकर मुख्यमंत्री तीरथ के फ़ैसले का हुआ स्वागत, तीर्थ-पुरोहितों के साथ सुब्रमण्यम स्वामी ने भी दी बधाई

देहरादून– मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत द्वारा देवस्थानम बोर्ड पर पुनर्विचार करने के फैसले के बाद उनके फैसले का बड़ी संख्या में स्वागत हो रहा है और स्वागत करने वालों में अध्यात्मिक गुरु सद्गुरु बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी और हक हकूक धारी सीएम की जमकर तारीफ कर रहे हैं सभी का यही कहना है कि इस फैसले से मंदिरों के ऊपर सरकारी तंत्र का प्रभाव समाप्त होगा

देवस्थानम बोर्ड पर उत्तराखंड की तीरथ सरकार के पुनर्विचार के फैसले की सुब्रह्मण्यम स्वामी ने तारीफ की है। उन्होंने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक पोस्ट की है। उन्होंने इसे हिंदुओं की बड़ी जीत कहा है।मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा है कि देवस्थानम बोर्ड पर प्रदेश सरकार पुनर्विचार करेगी। फिलहाल बोर्ड में शामिल 51 मंदिरों को मुक्त किया जाएगा। उन्होंने कुंभ क्षेत्र में शराब की बिक्री पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाने की भी घोषणा की है।
मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को भूपतवाला स्थित अखंड परम धाम आश्रम में आयोजित विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल की बैठक में शिरकत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि जल्द चारों धामों के तीर्थ पुरोहितों की बैठक बुलाई जाएगी और सरकार उनके अधिकारों को छिनने नहीं देगीशंकराचार्यों ने प्राचीन काल से जो व्यवस्था की है, उसी का पालन किया जाएगा। उसमें कोई छेड़छाड़ नहीं होगी और न ही किसी के अधिकारों में कटौती होगी। गौरतलब है कि देवस्थानम बोर्ड का गठन पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के कार्यकाल में हुआ था। बोर्ड में चारों धाम समेत 55 मंदिर शामिल किए गए हैं। हरिद्वार से लेकर प्रदेशभर में हक-हकूकधारियों और तीर्थ पुरोहितों ने इसका विरोध किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *